Break / छुट्टी🤓

My friend said --You don't have to announce on WordPress when you're taking a WordPress break. There's nobody you need to apply for leave to, and nobody really cares that much for you.... 😭😂😍😍✨ I think I really need a break ... I  write 4-7 poetry's in a week.. post few of them here ...but [...]

ध्यान !

कितना सहज है..  ध्यान की मुद्रा में आना  ; और कितना जटिल है .. वास्तव में ध्यान लग पाना ; स्पष्ट हैं... सीधी रीढ़ मात्र से , मन के टेढ़ेपन से निजात दुष्कर है ; अंतर्मन में व्याप्त कोलाहल रुपी विष  , कृत्रिम शांति पर अपकर्ष है !!! ----Nimish The life of inner peace, being harmonious and [...]

Subtle Art of Love

Contrast of Liberating the loved One and tying them with the strings of Love. ============================ Label me as yours. Liberate me , call me your own. While I wish you fly wherever your heart desires. For have I loved you truly if I tie the wings of the majestic eagle's enthusiasm that makes who you are. ---Nimish [...]

सिर्फ शब्दों से नहीं..

सिर्फ शब्दों से नहीं , बिना छुए उसे स्पर्श कर.. बिना चूमे उसे चूमकर.. बिना घेरे उसे बाँहों में घेरकर.. . सूरजमुखी-सा शरमाते हुए... दूर से उसे पँखुड़ी-पँखुड़ी निहारते हुए... बिना देखे उसे दृश्य करते हुए... मैंने उससे कहा... ❤ ---Nimish  

जरुरी है ??

कभी-कभार मै सोचने लगता हूँ  ...क्या सफल होना जरुरी है ?? श्रेष्ठ बनना अनिवार्य है ??   हाँ या ना , पता नहीं !! पर शिखर तक ना भी पहुंचे हों , पर सशक्त होना जरुरी है ! बातें , मग से हो या न हो , पग धरातल पर जरुरी है ! दुरूहता कितनी भी [...]