प्यास कैसे बुझाई जाए ??

मित्र..कैसे कोई जुुुगत लगाई जाए  ?? कैसे यह प्यास बुझाई जाए ?? संकट के बादल घिरते प्रतीत हो रहे , प्यासे चेहरे मायूस खड़े तक रहे ।। .. सूखते जा रहे कुएं  ,सूनसान हो रहे नल-कूप , प्यासे निराश पंछी...घटते हुए जन-जीव । सूखती हुई नदियाँ , सूखते हरे-भरे पेड़ , अमृतमय होने वाली 'पानी' की हर बूंद ।। [...]

Advertisements

नीम का पेड़

फिर लौटा अपने गांव मैं  , वापस उस पेड़ की छाँव में । फिर उसी खेत ख़ालियानो में , वापस लौटा उन बगियो में ।। जहाँ उस नन्हें पौधे को रोपा था , पानी-पोषण देकर सँजोया था । वह पेड़ नीम का बड़ा हुआ , हरी जटायें बिखराए खड़ा हुआ ।। पर दिनकर का क्रोध चरम पर [...]