विश्वास

क्यों ढूँढती हो सच्चाई , जब सच्चा दिल तुम लिये हुए हो !! विश्वास से भरा दिल हम लिए हुए हैं !! ज़माना देखेगा अब , सीखेगा अब.. कि सच्चाई और विश्वास से रुहानीं रिश्तें कैसे बनकर जुड़ते हैं.. कभी ना टुटनें के लिए ---निमिष