विश्वास

क्यों ढूँढती हो सच्चाई , जब सच्चा दिल तुम लिये हुए हो !! विश्वास से भरा दिल हम लिए हुए हैं !! ज़माना देखेगा अब , सीखेगा अब.. कि सच्चाई और विश्वास से रुहानीं रिश्तें कैसे बनकर जुड़ते हैं.. कभी ना टुटनें के लिए ---निमिष

सिर्फ हमारी !!

तुम्हें जिया है मैंने , हर-पल , हर-कण में ; कविताओं के हर शब्द में , हर एक ख्वाहिश के साथ , हर एक तमन्ना , हर एक सपनें के साथ , जैसा मैं चाहता हूँ ; मैंने ठीक वैसी ही , दुनिया बनायी है , तुम्हारे साथ , मेरी और तुम्हारीं , सिर्फ हमारी....❤ [...]

स्मृति

मेरी प्रिय ! मैंने तुम्हारे लिए लिखा , किंतु कभी इस आशा से न लिखा , कि तुम पढ़ोगी !!! ये मेरा लिखना , तुम्हारी स्मृतियों को स्थायित्व दे गया !! और तुम्हारा प्रेम कभी , विस्मृत नहीं हुआ !!❤ ---Nimish  There is something indescribable about love.    

Unmasking

Never showed my love when she was here. Of her reaction I always had that fear. Now she will no longer stay. I never showed my love, and now she's away. . I always wanted to look at her face. I always wanted to be near her place. I always had a feeling deep down [...]